PM Solar Panel Yojana : प्रधानमंत्री सोलर पैनल योजना के बारे में यहां पढ़ें पूरी जानकारी, लाभ पाने के लिए ऐसे करें आवेदन

Pradhan Mantri Solar Panel Yojana प्रधानमंत्री सोलर पैनल योजना के बारे में यहां पढ़ें पूरी जानकारी, लाभ पाने के लिए ऐसे करें आवेदन : देश में बढ़ती बिजली के उत्पादन और बिल को देखते हुए केंद्र सरकार की तरफ से प्रधानमंत्री सोलर पैनल योजना (PM Solar Panel Yojana) की शुरूआत की गई है। वहीं बिजली और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय (Ministry of Renewable Energy) के तहत अगर सरकार द्वारा किया गया है। प्रधानमंत्री सोलर पैनल योजना (Pradhan Mantri Solar Panel Yojana) का उद्देश्य भारत के किसानों को कमाई के साधन देना है और साल 2022 तक किसानों की आय को दोगुना करना है।

PM Solar Panel Yojana : प्रधानमंत्री सोलर पैनल योजना के बारे में यहां पढ़ें पूरी जानकारी, लाभ पाने के लिए ऐसे करें आवेदन

PM Solar Panel Yojana
PM Free Solar Panel Yojana

प्रधानमंत्री सोलर पैनल योजना (Pradhan Mantri Solar Panel Yojana) को सरकार द्वारा कुसुम योजना (KUSUM Yojana) के नाम से भी जाना जाता है। Pradhan Mantri Solar Panel Yojana किसानों को दो तरह से लाभ देती है। पहले पुराने डीजल सिंचाई पंप (Diesel irrigation pump) की जगह रहे सोलर पैनल (Solar panel) से चलने वाले सिंचाई पंपों (Irrigation pumps) का इस्तेमाल कर पाएंगे और दूसरा उन्हें खेत में लगे सोलर प्लांट (Solar plant) से उत्पन्न हुई बिजली को कई बिजली कंपनियों को बेच कर आय के रूप में 6,000 रुपए तक पा सकेंगे।

Full information about Pradhan Mantri Solar Panel Scheme

बता दें कि केंद्र सरकार (Central Government) द्वारा बजट साल 2020 में इस योजना को इसलिए आगे बढ़ाने का ऐलान किया है ताकि किसानों की सिंचाई और बिजली की जरूरत वह खुद पूरी कर सकें। साथ ही वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman) ने 1 फरवरी 2020 को प्रधानमंत्री सोलर पैनल योजना (Pradhan Mantri Solar Panel Yojana) की घोषणा की थई। सरकार (Government) द्वारा इस योजना के तहत एक और बड़ा ऐलान किया गया कि सरकार किसानों को Subsidy के रूप में सोलर पंप (Solar pump) की कुल लागत का 60% रकम देगी।

PM Solar Panel Yojana के लाभ

1). किसान सोलर सिंचाई पंप स्थापित (Solar irrigation pump installed) करके पेट्रोलियम ईंधन (Petroleum fuel) की लागत को खत्म कर सकते हैं या बचा सकते हैं।
2). योजनाओं का दूसरा लाभ यह है कि किसान सीधे सरकार को जरूरत की बिजली बेच सकते हैं।
3). कुसुम योजना (Kusum Yojana) केंद्र सरकार (Central Government) की दोहरी लाभ योजना है।
4). PM Solar Panel Yojana उन किसानों को जरूरत आय दी जाती है जो अपनी जमीनों में सौर ऊर्जा संयंत्र (solar power plant) स्थापित करेंगे।
5) यह योजना हर महीना 6,000 रुपए तक ट्रांसफर किए जाएंगे।
6). सोलर प्लांट (Solar plant) के नीचे किसान आसानी से सब्जियां दाल सबसे उगा सकते हैं।

Silent Factors Pradhan Mantri Solar Panel Yojana

1). केंद्र सरकार (Central Government) ने दस साल के समय के लिए कुसुम योजना (Kusum Yojana) के लिए 48000 करोड़ रुपये आवंटित किए हैं।
2). यह योजना बंजर जमीन पर 10,000 मेगावाट सौर संयंत्र बनाने और 1.75 मिलियन ऑफ-ग्रिड कृषि सौर पंप (Off-grid agricultural solar pump) देने के साथ शुरू होगी।
3). यह विकेन्द्रीकृत सौर ऊर्जा (Decentralized solar energy) उत्पादन को बढ़ावा देगा। साथ ही DISCOMS के प्रसारण घाटे को कम करेगा और साथ ही कृषि क्षेत्र में Subsidy के बोझ को कम करके DISCOMs के financial health को बेहतर बनाने के लिए मदद करेगा।
4). किसान सौर ऊर्जा प्लांट (Solar power plant) के नीचे चार्ट बनाकर सब्जी आया छोटी फसलों की खेती कर सकते हैं

Pradhan Mantri Solar Panel Yojana के लिए दस्तावेज

1). आवेदक भारतीय निवासी होना चाहिए।
2). आधार कार्ड
3). पत्र व्यवहार का पता
4). किसान की भूमि के दस्तावेज जैसे खसरा खतौनी इत्यादि
5). घोषणा पत्र
6). बैंक खाते की पासबुक
7). फोटोग्राफ
8). मोबाइल नंबर

PM Solar Panel Yojana के लिए रजिस्ट्रेशन

अगर आप भी PM Solar Panel Yojana के तहत ऑनलाइन आवेदन (Online Application), पंजीकरण (Registration) करना चाहते हैं तो इस तरह से आवेदन कर सकते हैं।

1). सबसे पहले Eh MNRE की official website पर जाएं।
2). इसके बाद योजना से जुड़े सभी दिशानिर्देश, पात्रता लाभ इत्यादि के बारे में विस्तार हुआ पढ़ें।
3). इसके बाद विद्युत वितरण कंपनियां (Power distribution companies) और नोडल एजेंसियां (Nodal agencies) और MNRE ​​इस योजना को लागू करेंगी जिसके लिए शीघ्र ही विस्तृत दिशानिर्देश जारी किए जाएंगे।
4). साथ ही साथ Ministry of new and Renewal energy यह भी बताया गया कि किसी भी तरह की गलत/ डुप्लीकेट या झूठी वेबसाइट पर लाभार्थियों और आम जनता को किसी भी पंजीकरण शुल्क को जमा करने या ऐसी वेबसाइटों पर अपना डेटा साझा करने से बचे।
5). वे इस संबंध में किसी भी जानकारी के लिए अपनी वितरण कंपनियों या राज्य अक्षय ऊर्जा नोडल एजेंसियों से संपर्क कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें:- PM Kisan Samman Nidhi Yojana : योजना के पेमेंट का सिस्टम है automatic, अगर आपसे हुई है कोई गलती तो ऐसे करे लें ठीक